पटवार वृत्त खोलने की घोषणा की

12 फरवरी, 2022

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज ऊना जिले के अपने एक दिवसीय प्रवास के दौरान जिले के कुटलेहड़ और हरोली विधानसभा क्षेत्रों के लिए लगभग 67 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया।

मुख्यमंत्री ने समूर कलां में 16.78 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित कला केंद्र ऊना का लोकार्पण किया। उसके उपरांत, उन्होंने थानाकलां में हि.प्र. राज्य विद्युत बोर्ड मंडल, बंगाणा में ग्रामीण विकास मंडल, बसाल में कृषि विभाग का एसएमएस कार्यालय, टयूरी बडोली और कियारियां में पटवार वृत्त, बीहरू में फील्ड कानूनगो कार्यालय खोलने, हरोट, चारड़ा, बल्ह खालसा और बोहरू में पशु चिकित्सा उपकेंद्र खोलने की घोषणा की। इसके अतिरिक्त उन्होंने चुलहरी, चमियारी और धामंदरी में पशु औषधालय को पशु चिकित्सालयों में स्तरोन्यन, प्राथमिक विद्यालय टीहरा और काकराना का माध्यमिक विद्यालय में स्तरोन्यन, राजकीय माध्यमिक विद्यालय नारी का उच्च विद्यालय और राजकीय उच्च विद्यालय टियूराई को वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में स्तरोन्नत करने की घोषणा की। उन्होंने इस अवसर पर बंगाणा में सहायक लोक सम्पर्क अधिकारी का एक पद सृजित करने की भी घोषणा की।

उन्होंने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला धमांदरी एवं रैंसरी में वाणिज्य कक्षाएं आरंभ करने तथा वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय समूर कलां में विज्ञान प्रयोगशाला स्थापित करने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि शीघ्र हि नाबार्ड के अन्तर्गत जिले की तीन प्रमुख सड़कों के क्रियान्वयन के लिए कदम उठाए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि ऊना जिला पिछले चार वर्षों में चहुंमुखी विकास का गवाह बना है। जिले के विभिन्न भागों में 1600 करोड़ रुपये के विकासात्मक कार्यों को समर्पित व पूरा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह कला केन्द्र निश्चित रूप से क्षेत्र में सांस्कृतिक गतिविधियों का मुख्य केंद्र बनेगा। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के बावजूद राज्य ने सुनिश्चित किया कि विकास की गति निर्बाध रूप से चलती रहे। इस कठिन दौर में बहुमूल्य जीवन को बचाने के लिए राज्य सरकार ने स्वास्थ्य सुविधाओं को सभी स्तरों पर मजबूती प्रदान की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्षी नेता हताशा में बेबुनियाद और निराधार आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हिमकेयर योजना के अन्तर्गत पांच लाख से अधिक परिवारों को पंजीकृत किया गया है और अब तक राज्य के 2.17 लाख लोगों के उपचार पर 200 करोड़ रुपये से अधिक व्यय किए जा चुके हैं। मुख्यमंत्री सहारा योजना के तहत गंभीर बीमारियों से पीड़ित आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को निरंतर देखभाल के लिए 3000 रुपये प्रति माह प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना ने हिमाचल प्रदेश को देश का पहला धुआंमुक्त राज्य बनाने में प्रमुख भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के गौ सदनों में रखी गई प्रति गाय पर प्रति माह 500 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने हाल ही के मण्डी दौरे के दौरान राज्य के लिए 11 हजार 500 करोड़ रुपये की परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास किए, लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कांग्रेस नेता इन विकासात्मक प्रयासों से अभी भी अनभिज्ञ हैं। उन्होंने कहा कि राज्य के लोग प्रधानमंत्री के विशेष स्नेह के लिए हमेशा ऋणी रहेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पूर्ण राज्यत्व के अवसर पर निर्णय लिया कि 60 यूनिट प्रतिमाह बिजली खपत पर प्रदेश के घरेलू उपभोक्ताओं से कोई विद्युत शुल्क नहीं किया जाएगा, जिससे उनकी विद्युत खपत प्रति यूनिट शून्य मानी जाएगी। इसके अतिरिक्त, 125 यूनिट विद्युत खपत वाले घरेलू उपभोक्ताओं से प्रति यूनिट केवल एक रुपया विद्युत शुल्क लिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अवैध शराब तस्करी में शामिल माफिया को गिरफ्तार किया जा चुका है और यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि उनके संबंध कांग्रेस पार्टी नेताओं से हैं। राज्य सरकार नशीले पदार्थों की तस्करी में शामिल व्यक्तियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी तथा उनकी सम्पत्ति भी जब्त की जाएगी।

इससे पहले, मुख्यमंत्री ने 14.70 करोड़ रुपये से बनने वाले 50 बिस्तरों वाले नागरिक अस्पताल, बंगाणा का शिलान्यास किया। उन्होंने 15.54 करोड़ रुपये से उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना धार चामुखा, पीपलू, धरोह सरोह तथा चमियारी सिहाना के संवर्द्धन कार्य तथा नलूट के लठयाणी में 5.47 करोड़ रुपये की 33/11 के.वी., 1ग3.15 एमवीए उप-केन्द्र जिसमें चार आउटगोइंग फीडर्स, नियंत्रण कक्ष भवन तथा हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड लिमिटेड बंगाणा के विद्युत उप-मण्डल के तहत कर्मचारी भवन की आधारशिलाएं रखीं।

मुख्यमंत्री ने अन्दरोली गांव में नई राहें-नई मंजिलें के तहत 2.60 करोड़ रुपये से बनने वाले जलक्रीड़ा भवन तथा थानाकलां में 3.73 करोड़ रुपये की लागत से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के ओ.पी.डी. खण्ड की भी आधारशिला रखीं।

इसके उपरान्त, मुख्यमंत्री ने ऊना के बाबा बाल आश्रम का दौरा किया।

इसके पश्चात, मुख्यमंत्री ने 3.82 करोड़ रुपये की लागत से पुलिस विभाग के नवनिर्मित प्रशासनिक खण्ड तथा हरोली के झलेड़ा में 3.95 करोड़ रुपये से निर्मित आर.टी.पी.सी.आर. लैब पालकवाह का लोकार्पण किया।

ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने मुख्यमंत्री तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत करते हुए कहा कि गत चार वर्षों के दौरान कुटलैहड़ क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र की पानी की समस्या का निवारण सुनिश्चित हुआ है, जिसका श्रेय मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व को जाता है। उन्होंने कुटलैहड़ क्षेत्र के लोगों के हितों की अनदेखी के लिए पूर्व कांग्रेस सरकार की निन्दा की। उन्होंने क्षेत्र में 67 करोड़ रुपये की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के शिलान्यास व लोकार्पण करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि थानाकलां में 10 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले गोकुलग्राम का कार्य शीघ्र पूर्ण होने जा रहा है तथा समूर में 10.22 करोड़ रुपये की लागत से चैक डैम निर्मित किया जा चुका है। उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों की भी विस्तृत जानकारी दी।

जिला भाजपाध्यक्ष मनोहर लाल शर्मा ने मुख्यमंत्री तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों का इस अवसर पर स्वागत किया।

छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सत्ती, विधायक बलबीर सिंह व राजेश ठाकुर, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार त्रिलोक जम्वाल, राज्य एसआईडीसी के उपाध्यक्ष प्रोफेसर राम कुमार शर्मा, मण्डी बोर्ड के अध्यक्ष बलबीर बग्गा, जिला परिषद अध्यक्षा नीलम कुमारी, गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष अशोक शर्मा, भाजपा मण्डलाध्यक्ष तरसेम लाल सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?