राज्यपाल ने हिमफैड को कोल्ड स्टोर स्थापित करने का सुझाव दिया

हिमाचल प्रदेश राज्य सहकारिता विपणन और उपभोक्ता फैडरेशन लिमिटेड (हिमफैड) के अध्यक्ष गणेश दत्त ने आज राजभवन में राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर से भेंट कर उन्हें फैडरेशन द्वारा प्रदेश में चलाई जा रही विभिन्न गतिविधियों के बारे में अवगत करवाया।

गणेश दत्त ने कहा कि यह हिमाचल प्रदेश का एक प्रमुख सहकारी विपणन फैडरेशन है। जो राज्य के किसानों व उपभोक्ताओं के लिए कृषि उत्पादों के विपणन और खाद वितरण जैसी विभिन्न प्रकार की गतिविधियां चलाता है। उन्होने कहा कि यह प्रदेश में कृषि, उद्योग और व्यापार आदि के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है और किसानों को समय रहते खाद भडारण, खरीद और वितरण सुनिश्चित कर प्रदेश के किसानों को आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध करवाता है ताकि किसानो को खाद की कमी का सामना न करना पड़े।

उन्होंने कहा कि इस वर्ष फैडरेशन के माध्यम से किसानों और बागवानों को 95000 मिट्रिक टन खाद की आपूर्ति की गई और पिछले एक वर्ष में कोविड महामारी के दौरान फैडरेशन किसानों को खाद की पर्याप्त आपुर्ति सुनिश्चित की जा रही है। उन्होंने कहा कि हिमफैड आपूर्ति श्रृंखला मजबूत है और मण्डी मध्यस्थता योजना के अन्तर्गत सेब की सबसे बड़ी खरीद एजेंसी के रूप में कार्य कर रहा है। इस वर्ष सेब सीजन में 122 खरीद केंद्र खोले गए हैं। इसके अलावा फैडरेशन अपने पेट्रोल और डीजल स्टेशन का भी संचालन कर रहा है। उन्होंने कहा कि अपनी विभिन्न गतिविधियों के सुचारू क्रियान्वयन के कारण आज फैडरेशन लाभ कमाने वाला सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम बन गया है।

इस अवसर पर राज्यपाल ने फैडरेशन की पहल की सराहना की और कहा कि हिमफैड को राज्य में कोल्ड स्टोर विकसित करने के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में और अधिक कोल्ड स्टोर स्थापित करने की आवश्यकता है ताकि किसानों और बागवानों को अपनी उपज के बेहतर विपणन की सुविधा और लाभकारी मूल्य मिल सकें।

इस अवसर पर हिमफेड के प्रबंध निदेशक के.के. शर्मा, और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?