June 26, 2022

74 पंचायतों मंे डोर टू डोर ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के तहत कलेक्शन शुरू

Spread the love

उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी की अध्यक्षता मंे आज यहां जिला पर्यावरण योजना समिति की बैठक का आयोजन किया गया।
उन्होंने कहा कि जिला शिमला में चिन्हित 74 पंचायतों मंे डोर टू डोर ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के तहत कलेक्शन शुरू कर दिया गया है। इसके अतिरिक्त 9 स्थानीय नगर निकायों तथा नगर निगम शिमला द्वारा डोर टू डोर अपशिष्ट पदार्थों को भी एकत्रित किया जा रहा है, जिसके तहत अब तक 14 लाख 21 हजार 929 रुपये स्वच्छता सेस चार्ज के रूप में एकत्रित किए जा चुके हैं।
उन्होंने कहा कि जिला में पर्यावरण को स्वच्छ रखने के लिए स्वच्छता ही सेवा, पॉलिथीन हटाओ पर्यावरण बचाओ, स्वच्छ सुन्दर शौचालय एवं गंदगी मुक्त भारत आदि विभिन्न जागरूकता अभियानों का आयोजन भी किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि जिला शिमला में प्लास्टिक कचरा प्रबंधन के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में 74 अस्थाई संग्रह शेड तथा शहरी क्षेत्रों मंे सभी स्थानीय निकायों में प्लास्टिक कचरा संग्रह केन्द्र स्थापित किए जा चुके हैं।
उन्होंने सभी नगर निकायों को अपने क्षेत्रों मंे ई-वेस्ट संग्रह केन्द्र को स्थापित करने के निर्देश दिए ताकि उन केन्द्रों मंे ई-वेस्ट एकत्र हो सके। उन्होंने कहा कि जिला के अलग-अलग क्षेत्रों में वायु एवं पानी गुणवत्ता की जांच समय-समय पर की जा रही है।
उन्होंने कहा कि ध्वनि प्रदूषण के तहत उल्लंघनकर्ताओं के खिलाफ समय-समय पर कार्यवाही अमल में लाई जा रही है वहीं परिवहन विभाग द्वारा नो हौंक विशेष जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा है। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को क्षेत्रों में नो साईलेंस जोन क्षेत्र निर्धारित करने के भी निर्देश दिए।
उन्होंने पर्यावरण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों को समिति के तहत सदस्यों की जल्द से जल्द एक कार्यशाला का आयोजन करने के भी निर्देश दिए ताकि सभी अधिकारियों को योजना के तहत कर्तव्यों का सही से पता चल सके।