May 27, 2022

सरकार के कार्य विपक्षी दलों को गुजर रहे नागवार

Spread the love

शिमला:- वन मंत्री श्री  राकेश पठानिया ने कहा कि हिमाचल प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में प्रदेश के समग्र विकास के लिए सार्थक कदम उठा रही है। कोरोना महामारी जैसे संकट के बावजूद हिमाचल में विकास की कोई कमी नहीं आने दी गई है। लोगों के कल्याण के लिए समर्पित प्रदेश सरकार के कार्य शायद विपक्षी दलों को नागवार गुजर रहे हैं और इसी कारण वे अनाप-शनाप बयानबाजी कर अपने राजनीतिक हित साधने में लगे हुए हैं।

 यहां जारी एक वक्तव्य में उन्होंने कहा कि भाजपा उपचुनावों में उतरने के लिए पूरी तरह से तैयार है। प्रदेश सरकार द्वारा गत साढ़े तीन वर्षों में किए गए बेहतर कार्य और जन हितैषी निर्णयों पर हिमाचल की जनता उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशियों को भारी बहुमत से जीता कर अपनी मोहर लगाएगी। प्रदेश सरकार के जन कल्याणकारी योजनाओं एवं नीतियों का ही परिणाम है कि धर्मशाला और पच्छाद के उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशियों का वहां की जनता ने खुले दिल से समर्थन किया। इसी तरह अब फतेहपुर, जुब्बल-कोटखाई एवं अर्की सीट पर विधानसभा उपचुनावों तथा मंडी लोकसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव में भी भाजपा प्रत्याशी भारी बहुमत से जीत हासिल करेंगे।

श्री राकेश पठानिया ने कहा कि गत दिवस कुल्लू में विपक्षी नेताओं की ओर से की गई बेबुनियाद बयानबाजी से प्रदेश की जनता उनके बहकावे में आने वाली नहीं है। लोगों को भली-भांति पता है कि टुकड़ों में बंटी कांग्रेस अब अंतिम सांसें गिन रही है और प्रदेश तथा देश का नेतृत्व भाजपा के हाथों में पूरी तरह से सुरक्षित है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के सक्षम नेतृत्व में खुशहाल है और कोरोना महामारी से निपटने के लिए किए गए बेहतर प्रबंधन से लोगों का विश्वास उन पर और भी बढ़ा है। प्रधानमंत्री सहित केंद्रीय नेतृत्व ने भी खुले दिल से इसके लिए मुख्यमंत्री के प्रयासों की सराहना की है। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश में अगला चुनाव भी मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में लड़ेंगे और जीतेंगे भी।  हिमाचल की जनता उपचुनावों व आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा प्रत्याशियों को विजयी बनाने का संकल्प ले चुकी है और जनता ने नारा दिया है- जन हितैषी जय राम सरकार, चुनेगा हिमाचल बार-बार। 

उन्होंने नेता विपक्ष सहित कांग्रेस के विधायकों एवं संगठन पदाधिकारियों को नसीहत दी कि वे अनाप-शनाप बयानबाजी करने के बजाए अपने सत्ता काल में अकर्मण्य बने रहने और केवल निजी हित साधने पर पश्चाताप अवश्य करें। नेतृत्व विहीन कांग्रेस में आज नेता, नीति और विज़न का स्पष्ट अभाव सभी को दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस ने अपने शासन के 50 वर्षों में प्रदेश में विकास कार्य किए होते तो उन्हें आज इस तरह दर-दर भटक कर अपनी सार्थकता सिद्ध नहीं करनी पड़ती। लोगों के दिलों से पूरी तरह उतर चुकी कांग्रेस और उसके नेता छटपटाहट में बेबुनियाद बयानबाजी कर  प्रदेश की जनता द्वारा दिए गए जनादेश का भी अपमान कर रही है।