August 19, 2022

अधिकारियों को सकारात्मक सोच और लोगों के कल्याण के लिए समर्पण की भावना से कार्य करने की सलाह

Spread the love

 शिमला             
राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर से आज राजभवन में 2020 कैडर के चार आईएएस परिवीक्षाधीन अधिकारियों ने भेंट की। इन अधिकारियों को हिमाचल प्रदेश कैडर आबंटित किया गया है। ये परिवीक्षाधीन अधिकारी हिमाचल प्रदेश लोक प्रशासन संस्थान फेयरलाॅन शिमला में राज्य विशेष प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। इन चार प्रोबेशनर्ज में ओम कान्त ठाकुर, अभिषेक कुमार गर्ग, गुरसिमर सिंह और दिव्यांशु सिंघाल शामिल हैं।
इन प्रोबेशनर्ज से बातचीत के दौरान राज्यपाल ने कहा कि हिमाचल एक सुन्दर राज्य है और यहां के लोेग बहुत सरल हैं। सेवा के दौरान उन्हें अधिक से अधिक लोगों से मिलना चाहिए ताकि उन्हें लोगों की समस्याओं की जानकारी मिल सके। उन्होंने कहा कि उन्हें जानकारी हासिल करने के लिए सम्पूर्ण प्रदेश भर की यात्रा करनी चाहिए। उन्होंने परिवीक्षाधीन अधिकारियों को सकारात्मक सोच के साथ कार्य करने और लोगों के कल्याण के लिए समर्पण की भावना से कार्य करने की सलाह दी, जिससे अफसरशाही के प्रति लोगों की सोच में बदलाव आए। उन्होंने जिला लाहौल-स्पीति के अपने हाल ही के दौरे के अनुभव सांझा करते हुए कहा कि प्रदेश के तीव्र विकास का कारण यहां के लोगों की अफसरों के पास सुगम पहंुच है, लेकिन प्राकृतिक आपदा से विकास की गति बाधित होती है।
श्री आर्लेकर ने कहा कि अब समय आ गया है कि हम कागज रहित कार्य प्रणाली को अपनाएं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक स्तर पर कार्य संस्कृति में बदलाव लाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं और युवा अधिकारियों को इस क्षेत्र के विकास के लिए नई योजनाओं के साथ कार्य करने की आवश्यकता है। प्रदेश में इस प्रकार का वातावरण विकसित किया जाना चाहिए कि लोग पर्यटन गतिविधियों में भागीदारी निभाएं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिले को पर्यटन से जोड़ना चाहिए और वर्षभर जिलावार पर्यटन गतिविधियां संचालित की जानी चाहिए।