May 27, 2022

तिरंगा ही लहराया था, तिरंगा ही लहराएगा।

Spread the love

शिमला,
तिरंगा ही लहराया था, तिरंगा ही लहराएगा। यह बात आज शहरी, विकास, आवास, नगर नियोजन, संसदीय कार्य एवं सहकारिता मंत्री सुरेश भारद्वाज ने लोअर बाजार, गंज बाजार तथा सब्जी मण्डी के सभी दुकानदारों को तिरंगा ध्वज वितरण कार्यक्रम के दौरान कही।
उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री, समस्त मंत्रियों, विधायकों तथा मीडिया कर्मियों को रिकाॅर्डिड संदेश के दौरान 15 अगस्त का उत्सव न मनाने के संदेश दिए जा रहे हैं, उन सभी शत्रुओं को विधानसभा मंत्रियों तथा विधायकों द्वारा एकजुट होकर झण्डा लहराते हुए संदेश दिया गया।
उन्होंने कहा कि जिला में रह रहे सभी शहरी तथा ग्रामीणों के लोग 75वीं वर्षगांठ के अमृत महोत्सव व स्वतंत्रता दिवस के शुभ अवसर को हर्षोल्लास से मनाएं। उन्होंने कहा कि सभी नागरिक इस झण्डा उत्सव को 15 अगस्त, 2021 को अमृत महोत्सव के दौरान अपने-अपने घरों में झण्डा लहराते हुए मनाएं।
उन्होंने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा गुजरात के अहमदाबाद से हरी झंडी दिखाकर आरम्भ किया गया है। यह उत्सव सम्पूर्ण राष्ट्र में 15 अगस्त, 2023 तक चलेगा।
उन्होंने कहा कि हमारे देश का भविष्य गौरवान्वित, समृद्धि, ऐतिहासिक चेतना और सांस्कृतिक विरासत का अथाह भण्डार है तथा जिन स्वतंत्रता सेनानियों ने देश के लिए अपने प्राणों की आहुति दी है, उन सभी स्वतंत्रता सेनानियों को हम नमन करते हैं और हम प्रदेश की युवा पीढ़ी को भी यह संदेश देना चाहते है कि देश के लिए जिन-जिन लोगों ने अपनी कुर्बानी दी है, उन्हें उनके बारे मंे जागरूक होना अति आवश्यक है।
उन्होंने कहा कि इस अमृत महोत्सव का मुख्य उद्देश्य उन वीर सैनिकों तथा स्वतंत्रता सेनानियों को याद करना है जिन्होंने देश की अखण्डता तथा एकता के लिए अपनी जान न्यौछावर कर दी।
उन्होंने शिमला शहर के सभी वार्डों के लिए तिरंगा टोलियों को भी रवाना किया, जो 15 अगस्त को सभी वार्डों में तिरंगा झण्डा लगवाएगी।
इस अवसर पर नगर निगम शिमला महापौर सत्या कौंडल, मण्डलाध्यक्ष राजेश शारदा, महामंत्री सुशील चौहान, जिला किसान मोर्चा अध्यक्ष संजीव चौहान, जिला उपाध्यक्ष शिमला संजय कालिया, युवा मोर्चा अध्यक्ष हितेश शर्मा, जिला उपाध्यक्ष सन्नी लखनपाल, तरूण राणा, योगेन्द्र पुंडिर, भाजपा युवा मोर्चा उपाध्यक्ष किशोर ठाकुर तथा भाजपा के विभिन्न पदाधिकारी उपस्थित थे।