September 16, 2021

Himachalreport.com

in search of truth

क्षतिग्रस्त मार्गों को शीघ्र बहाल करने के आदेश जारी

उपायुक्त सोलन कृतिका कुल्हारी ने जिला के सभी उपमण्डलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि भारी वर्षा के कारण क्षतिग्रस्त मार्गों को शीघ्र बहाल करवाएं और यह सुनिश्चित बनाएं कि किसी भी स्थान पर लोगों को मूलभूत सुविधाओं से वंचित न रहना पड़े।
कृतिका कुल्हारी ने सभी उपमण्डलाधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने-अपने अधिकार क्षेत्र में वर्षा के कारण हो रही क्षति का नियमित अनुश्रवण करें और इस सम्बन्ध में आवश्यक रिपोर्ट जिला मुख्यालय स्तर पर प्रेषित करते रहें ताकि उच्च स्तर पर इस सम्बन्ध में जानकारी अविलम्ब प्रदान की जा सके।
उपायुक्त ने कहा कि जिला के विभिन्न उपमण्डलों में वर्षा के कारण अवरूद्ध सम्पर्क मार्गों को शीघ्र बहाल करने पर युद्ध स्तर पर कार्य किया जाए। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण को यह सुनिश्चित बनाने को कहा गया है कि सोलन जिला से होकर गुजरने वाले सभी राष्ट्रीय राजमार्गों पर यातायात सुचारू रूप से चलता रहे। उन्होंने कहा कि जलशक्ति विभाग को विभिन्न जलापूर्ति योजनाओं को सुचारू रखने के निर्देश दिए गए हैं। प्रदेश विद्युत बोर्ड लिमिटिड को निर्देश दिए गए हैं कि जिला में विद्युत आपूर्ति सुचारू रखी जाए। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग को निर्देश दिए गए हैं कि जिला में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के साथ-साथ जलजनित रोगों एवं वर्षा के कारण होने वाले अन्य रोगों से बचाव के सम्बन्ध में समुचित तैयारी एवं दवा भण्डारण सुनिश्चित बनाया जाए।
उन्होंने कहा कि सभी उपमण्डलाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि आपदा की स्थिति में प्रभावित व्यक्तियों एवं परिवारों को तुरन्त फौरी राहत प्रदान की जाए और उनका पुनर्वास सुनिश्चित बनाया जाए।
कृतिका कुल्हारी ने कहा कि सोलन जिला में 13 जून, 2021 से आज तक वर्षा के कारण लगभग 15 करोड़ 40 लाख रुपए का नुकसान आंका गया है।
उन्होंने कहा कि मौसम विभाग द्वारा जारी चेतावनी के दृष्टिगत सभी को एहतियात बरतनी चाहिए। उन्होंने आग्रह किया है कि ऐसे में लोग आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकलें और अनावश्यक यात्राओं को स्थगित कर दें। उन्होंने स्थानीय निवासियों सहित पर्यटकों से आग्रह किया कि वर्षा के कारण विभिन्न नालों, खड्डों का जल स्तर अधिक है और ऐसे में इनके किनारे न जाएं।
कृतिका कुल्हारी ने कहा कि जिला प्रशासन भारी वर्षा के कारण होने वाली किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है।

????????????????????????????????????