June 30, 2022
WhatsApp Image 2022-06-27 at 2.25.36 PM
WhatsApp Image 2022-06-27 at 2.25.35 PM (1)
WhatsApp Image 2022-06-27 at 2.25.35 PM
WhatsApp Image 2022-06-27 at 2.25.36 PM WhatsApp Image 2022-06-27 at 2.25.35 PM (1) WhatsApp Image 2022-06-27 at 2.25.35 PM

सावधान अगर यह लक्ष्ण है तो हो सकता है ब्लैक फंगस

Spread the love

ब्लैक फंगस के लक्षणों के प्रति सर्तक रहे

स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि लोगों को सिर दर्द, चेहरे में दर्द, नाक बंद रहना, आंखों की रोशनी कम होना, आंखों में दर्द, गालों और आंखों में सूजन, दांतो का ढीला होना और नाक से असाधारण काला रसाव होना जैसे ब्लैक फंगस के लक्षणों के प्रति सतर्क रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के लक्षण पाए जाने पर व्यक्ति तुरन्त चिकित्सक से सलाह ले और इस बीमारी का समय पर उपचार सुनिश्चित करवाएं।
उन्होंने कहा कि ब्लैक फंगस प्रदेश में महामारी घोषित है। सभी जिलों को ब्लैक फंगस के मामलों से संबंधित डाटा को भारत सरकार के एस 3 पोर्टल पर अपडेट करने के निर्देश दिए गए हैं, ताकि मामलों की निरन्तर निगरानी और इससे संबंधित सही जानकारी प्राप्त हो सके।
प्रवक्ता ने कहा कि प्रदेश में गत दिवस तक कोविड-19 के 8 मरीजों में ब्लैक फंगस पाया गया हैं। उन्होंने कहा कि आईजीएमसी शिमला में पांच और डाॅ. राजेन्द्र प्रसाद राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय टांडा में तीन मरीज उपचार के लिए भर्ती किए गए। उन्होंने कहा कि कोविड के दो मरीजों की म्यूकोरमाइकोसिस (ब्लैक फगंस) से मृत्यु हो गई है, जिसमें से जिला सोलन के 49 वर्षीय व्यक्ति को 22 मई, 2021 को आईजीएमसी शिमला में भर्ती किया गया था। यह व्यक्ति मधुमेह और किडनी संबंधी रोग से पीड़ित था तथा जिला हमीरपुर से 38 वर्षीय व्यक्ति को 27 मई, 2021 को आईजीएमसी में उपचार के लिए भर्ती किया गया था। यह व्यक्ति मधुमेह रोग से पीड़ित था। दोनों मृतकों को कोविड निमोनिया था।
 प्रवक्ता ने कहा कि सभी जिलों को कोविड टेस्टिंग बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने लोगों से आग्रह किया है कि किसी भी प्रकार के कोविड संबंधित लक्षण आने पर जांच के लिए आगे आएं ताकि कोविड मामलों में समय पर जांच, आइसोलेशन और उपचार सुनिश्चित हो सके।