July 29, 2021

Himachalreport.com

in search of truth

85 वर्षीय लज्जा देवी ने दी कोरोना को मात


रोग पर विजय डरकर नहीं अपितु ईश्वर में पूर्ण आस्था, चिकित्सकों में पूरे विश्वास, सकारात्मकता तथा आत्मबल के सहारे प्राप्त की जा सकती है। यह कहना है सोलन विकास खण्ड की ग्राम पंचायत मशीवर की 85 वर्षीय लज्जा देवी का।
उम्र के इस पड़ाव पर लज्जा देवी ने न केवल कोरोना जैसे गम्भीर रोग को मात दी है अपितु विशेष रूप से युवा पीढ़ी को यह संदेश भी दिया है कि रोग से घबराएं नहीं अपितु सजग रहकर यह प्रयास करें कि कोविड-19 की चपेट में कोई आए ही न और यदि ऐसा हो जाता है तो पूरे जीवट के साथ रोग का सामना करें।
85 वर्षीय लज्जा देवी का सामान्य लक्षण होने पर कोविड-19 के लिए परीक्षण किया गया। 28 अप्रैल को आई रिपोर्ट में पता चला कि वे कोरोना पाॅजिटिव पाई गई हैं। उसके बाद जिला प्रशासन की ओर से उन्हें समर्पित कोविड केयर अस्पताल काठा भेजा गया। वे 20 दिन अर्थात 18 मई तक काठा में उपचाराधीन रहीं।
पूर्ण रूप से स्वस्थ होने के उपरान्त 18 मई 2021 को ही उन्हें अस्पताल से छुट्टी दी गई। लज्जा देवी को उम्र के इस पड़ाव में सुनने में थोड़ी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने अपने पुत्र सुभाष ठाकुर के माध्यम से अवगत करवाया कि समर्पित कोविड केयर केन्द्र काठा में उनका पूरा ध्यान रखा गया। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों एवं नर्सों के समर्पण ने उन्हें बीमारी हराने में सहायता की।
ग्राम पंचायत मशीवर के प्रधान नरेन्द्र ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार ग्राम पंचायत में न केवल विभिन्न कोविड नियमों का पालन सुनिश्चित बनाया जा रहा है अपितु किसी व्यक्ति के खांसी, जुखाम तथा बुखार इत्यादि से पीड़ित होने पर स्वास्थ्य विभाग के परामर्श से कोविड-19 परीक्षण की व्यवस्था भी की जा रही है। उन्होंने कहा कि लज्जा देवी न केवल ग्राम पंचायत मशीवर अपितु पूरे क्षेत्र के लिए जीवट की मिसाल बनकर उभरी हैं।