October 24, 2021

Himachalreport.com

in search of truth

गाँव में बाहर से आने वालों पर नज़र रखें पंचायत

मुख्यमंत्री ने पंचायती राज संस्थाओं के निर्वाचित प्रतिनिधियों से विवाह समारोहों के दौरान सख्त निगरानी रखने का आग्रह करते हुए कहा कि यह पाया गया है कि कुछ लोग इस सम्बन्ध में राज्य सरकार द्वारा जारी मानक संचालन प्रक्रियाओं का उल्लंघन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि निर्वाचित प्रतिनिधि सुनिश्चित करें कि ऐसे समारोहों में केवल 20 लोग ही उपस्थित हों। मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधियों को लोगों को बाहर के लोगों के बिना घर में विवाह आयोजित करने के लिए प्रेरित करने का आग्रह किया, इससे महामारी के प्रसार को रोकने में मदद मिलेगी।
जय राम ठाकुर ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं को राज्य के बाहर से

में आ रहे लोगों पर कड़ी निगरानी रखनी चाहिए ताकि उन्हें होम क्वारंटीन में रहने के लिए प्रेरित किया जा सके। उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले लोगों और ऐसे समारोह जिनमें अधिक संख्या में लोगों के इकट्ठे होने की संभावना हो, के बारे में जिला प्रशासन को भी अवश्य सूचना दी जानी चाहिए। लोगों को होम क्वारंटीन प्राॅटोकाॅल की सख्त अनुपालना के लिए प्रेरित किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रतिनिधियों को होम क्वारंटीन में लोगों पर नजर रखनी चाहिए और उन्हें चिकित्सा सहायता, दवाइयां और आवश्यकता पड़ने पर अस्पताल स्थानान्तरित करने के लिए प्रभावी समन्वय सुनिश्चित करना चाहिए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं के निर्वाचित प्रतिनिधियों को कोविड-19 मरीजों के अंतिम संस्कार के लिए सहायता प्रदान करने के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोविड-19 से ग्रसित व्यक्ति के अंतिम संस्कार के समय उचित प्राॅटोकाॅल का अनुपालन करना चाहिए।

लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित किया जाना चाहिए। उन्होंने प्रतिनिधियों से दिव्यांगों के टीकाकरण के लिए सहायता प्रदान करने के लिए आग्रह किया। इससे न केवल अच्छी भावना जागृत होगी बल्कि राज्य में अधिक से अधिक लोगों के टीकाकरण में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि यह सभ्य समाज के हर नागरिक का यह नैतिक कर्तव्य है कि वह इस वायरस के प्रसार को रोकने में राज्य सरकार की मदद करें।