सहायता के लिए आगे आए काॅरपोरेट घराने

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने यहां बताया कि कोविड महामारी के इस दौर में काॅरपोरेट क्षेत्र भी राज्य के लोगों की मदद करने के लिए आगे आ रहा है। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने आज यहां कहा कि प्रदेश सरकार को विभिन्न क्षेत्रों की संस्थाओं से काॅरपोरेट सामाजिक दायित्व (सीएसआर) के तहत सहायता प्राप्त हो रही है।

उन्होंने बताया कि अम्बूजा सीमेंट दाड़लाघाट ने 300 बेड, एक आपातकालीन वाहन और 100 आॅक्सीजन सिलेंडर, डाबर ने 15000 च्यवनप्राश के डिब्बे, काॅस्मो फेराइट्स ने 2000 आॅक्सीजन सिलेंडर, 1546 आॅक्सीजन कन्सेंट्रेटर, 5000 रेग्युलेटर तथा 9600 पल्स आॅक्सीमीटर प्रदान किए हैं।

इसी प्रकार क्रिमिका, आईटीसी, मैरिको और यूनाइटेड बिस्कुट ने खाद्य पदार्थों की सामग्री का ट्रक भेजा है। एडी हाइड्रो पाॅवर्स लिमिटेड, एचपी फार्मा एसोसिएशन ने आॅक्सीजन सिलेंडर प्रदान किए हैं। इंडस्ट्रीयल एसोसिएशन परवाणू ने सिलेंडर, मास्क, सैनिटाइजर, आइसोलेशन के लिए फ्लैट्स और एक आॅक्सीजन जेनरेशन प्लांट उपलब्ध करवाया है। इसके अतिरिक्त मलाना पावर कंपनी ने 700 पल्स आॅक्सीमीटर और 1500 एनआरबी मास्क प्रदान किए हैं।

उन्होंने बताया कि राज्य को भारत सरकार के माध्यम से भी विभिन्न देशों से सहायता प्राप्त हुई है। जिसके अन्तर्गत यूनाइटेड किंग्डम से 36 आॅक्सीजन कन्संट्रेटर्स, ताइवान से 185 आॅक्सीजन सिलेंडर, कुवैत से 280 आॅक्सीजन सिलेंडर, चीन से 150 आॅक्सीजन कन्संट्रेटर्स, कुवैत से 119 आॅक्सीजन प्रेशर रेगुलेटर, स्विटजरलैंड से 50 पोर्टेबल वेंटिलेटर तथा कनाडा से 20 पोर्टेबल वेंटिलेटर प्राप्त हुए हैं।

.0.

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?