कांग्रेस बताऐ 4 साल मे कितनी बार विधायक अर्की आये : रतन पाल

कांग्रेस पार्टी दो टुकड़ों में बटी हुई कांग्रेस पार्टी है परिवारवाद की जननी भारतीय जनता पार्टी से उम्मीदवार रतन पाल ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी को जवाब देना होगा कि उनकी पार्टी के विधायक अर्की में चार वर्षों में कितनी संभाल की है वे केवल और केवल पुत्र मोह में फसकर अपनी सीट छोडकर अर्की में चुनाव लड़ने आये थे और अर्की की जनता से मिले प्यार को उन्होने नजर अंदाज किया लेकिन अब अर्की का वोटर जागरूक है उन्हें मालूम है कि बिना भाजपा विधायक के अर्की का विकास नहीं हो सकता इसलिए जनता ने मन बना लिया है इस उपचुनाव में भाजपा को जिताकर अर्की का चहुमूखी विकास करना है।उन्होने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी दो हिस्सों में बटी हुई है और लोग यह जानते है कि विभाजित पार्टी कभी विकास नही कर सकती है कोरोना काल में अर्की को विधायक के द्वारा अनाथ छोड दिया गया था लेकिन मैंने चुनाव हारने के बावजूद भी कभी अर्की को नहीं छोड़ा और जितना हो सका  अर्की के लोगो की सेवा की है कोरोना जैसी महामारी में सेवा ही संगठन कार्यक्रम के माध्यम से अर्की के लोगो की संभाल करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ जिसके माध्यम से हजारो लोगो को भोजन, मास्क, सेनिटाजर उपलब्ध करवायें । भाजपा कार्यकर्ता आधारित राजनीतिक पार्टी है जो हमेशा से ही कार्यकर्ता का आदर करती है लेकिन दुसरी तरफ  कांग्रेस परिवारदवाद की जननी  है स्वर्गीय वीरभद्र सिंह के बाद उनके बेटे और अब उनकी धर्मपत्नी चुनाव में है यह स्पष्ट है कि कांग्रेस परिवार से बाहर नही निकल पा रही है भाजपा की सरकार ने अर्की के लोगो का हमेशा सम्मान किया है मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अर्की के लिए करोडो रूपयों की विकास योजनाओं को उदघाटन किया है जैसे ही अर्की से भाजपा विजयी होगी  पिछले चार वर्षो के अघूरे कार्यो को अगले एक वर्ष मे पूरा किया जायेगा।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?