रीठा गुलमोहर के पौधे किए रोपित

डॉ॰ यशवंत सिंह परमार औदयानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय नौणी में चल रहे वन महोत्सव अभियान के अंतर्गत आज कीट विज्ञान विभाग द्वारा मधुमक्खी अनुसंधान क्षेत्र में पौधरोपण किया गया। विभिन्न फसलों में परागण के लिए मधुमक्खियों का अहम महत्व है इसलिए इस अभियान के दौरान मधुमक्खियों के लिए बी फोरेज़ का काम करने वाले पेड़ लगाए गए। अनुसंधान निदेशक डॉ रविंदर शर्मा इस अवसर पर मुख्य अतिथि रहे। छात्र कल्याण अधिकारी डॉ जेके दूबे, विभाग अध्यक्ष डॉ राज कुमार ठाकुर समेत विभाग के सभी वैज्ञानिकों सहित अनुसंधान परियोजनाओं में कार्य कर कर्मचारियों ने पौधे लगाए। इस अवसर पर अमरूद, नींबू, बॉटलब्रश, रीठा और ब्लू गुलमोहर के पेड़ लगाये गए ताकि मधुमक्खियों को साल भर मौनचर उपलब्ध हो सके। इसके साथ-साथ अमरूद और नींबू में भी मुख्य कैम्पस पर अनुसंधान किया जा सके।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?