May 23, 2022

56 भोग का भोग लगाया

Spread the love

दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान द्वारा खलीनी शिमला में आयोजित श्रीमद् भागवत कथा  में श्री आशुतोष महाराज जी की शिष्या कथा व्यास साध्वी सुश्री भाग्यश्री भारती जी ने गोवर्धन प्रसंग को बहुत ही सुंदर ढंग से प्रभु भक्तों के समक्ष रखा। कथा में अपने विचारों में साध्वी जी ने पर्यावरण संरक्षण पर भी बल दिया उन्होंने कहा कि हम सभी का यह फर्ज है कि हम पर्यावरण का संरक्षण करें। हम अधिक से अधिक पौधारोपण करें एवं जल की बचत भी करें क्योंकि जल है तो कल है।अगर पेड़ पौधे कम हो गए तो इंसान का जीवन भी खतरे में पड़ जाएगा।कथा प्रवाह में साध्वी जी ने गोपियों का भगवान श्री कृष्ण के प्रति वैराग्य भाव भी प्रकट किया।उन्होंने कहा कि सच्चा भक्त ही और एक सच्चा शिष्य ही वैराग्य के असली अर्थ को समझ सकता है। साध्वी बहनों के द्वारा प्रभु की याद में एक वैराग्यपूर्ण भजन का गायन किया गया जिससे सभी की आंखें सजल हो गईं।कथा में राजमाता प्रतिभा सिंह (प्रदेशाध्यक्ष कांग्रेस पार्टी हिमाचल प्रदेश एवं सांसद मंडी), श्री यशवंत छाजटा (जिला प्रधान कांग्रेस), कंवर पृथ्वी विक्रम सेन,गौरव सूद,प्रियंका तंवर, लीतेश कुमार एवं सुनील ठाकुर ने पूजन एवं दीप प्रज्वलित किया। राजमाता प्रतीभा सिंह ने कथा व्यास जी को माला एवं हिमाचली टोपी पहनाकर उनका अभिनन्दन भी किया।मंच के माध्यम से साध्वी शुभानंदा भारती,साध्वी हरी अर्चना भारती, साध्वी सतेंदर भारती, साध्वी यशा भारती ने सुमधुर भजनों का गायन किया। संजीव कटवाल (प्रदेश उपाध्यक्ष एवं चेयरमैन हथकरघा एवं लघु उद्योग), श्रीमती पायल वैद्य (प्रदेश उपाध्यक्ष एवं चेयरमैन बाल विकास निगम),श्री करण नंदा, कंवर प्यार सिंह, सुनिशा भंडारी ने प्रभु की मंगल आरती में विशेष रुप से हिस्सा लिया।कथा में गोवर्धन पूजा के उपलक्ष में 56 भोग का भोग लगाया गया। कथा के बाद सारी संगत को भंडारा वितरित किया गया।