June 26, 2022

एक समाचार के पीछे होती है पत्रकार की बड़ी मेहनत: हरबंस सिंह ब्रसकोन

Spread the love


पत्रकार साल भर प्रतिदिन 24 घंटे समाचार संकलन का काम करता है। हम दिन रात जो समाचार देखते या पढ़ते हैं उसके पीछे पत्रकार की बड़ी मेहनत होती है, जो परिवार की मदद के बिना नहीं हो सकता है। निदेशक, सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग, आईएएस हरबंस सिंह ब्रसकोन ने यह विचार विश्व संवाद केन्द्र शिमला द्वारा शिमला में आयोजित पत्रकार परिवार मिलन कार्यक्रम में रखे। उन्होंने कहा कि सूचना के युग में समाचारों का महत्व काफी बढ़ा है। हर व्यक्ति प्रातः से सायं जानना चाहता है कि उसके आसपास और पूरे विश्व भर में क्या घटित हो रहा है। ऐसे में पत्रकारों की भूमिका काफी बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि मीडिया अगर सकारात्मक भूमिका अदा करे तो किसी व्यक्ति, संस्था, समूह और देश को आर्थिक, सामाजिक एवं राजनीतिक रूप से समृद्ध बनाया जा सकता है। वर्तमान दौर में मीडिया की उपयोगिता और इसकी भूमिका निरंतर बढ़ती जा रही है, सूचना के इस युग में सूचना से जुड़ना प्रत्येक व्यक्ति के लिए आवश्यक हो गया है, ऐसे में मीडिया कर्मियों को समाज को तथ्यों पर आधारित सूचना उपलब्ध करवानी चाहिए ताकि समाज में कभी भी किसी भी तरह का भ्रम उत्पन्न न हो।
कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता हार्दिक मेहता, विवेकानंद केन्द्र कन्याकुमारी के अखिल भारतीय आईटी संगठक द्वारा विचार रखे गए। उन्होंने व्यक्तिगत ध्येय को साथ में रखते हुए परिवारों की सोच के आधार पर अपना जीवन जीने की सलाह दी। साथ ही विघटनकारी पत्रकारिता के स्थान पर पूरे समाज और राष्ट्र के लिए पत्रकारिता करने पर भी बल दिया।
इस दौरान सरस्वती विद्यामंदिर हिमरश्मि परिसर विकासनगर में पत्रकारों व उनके परिवारों के लिए विभिन्न प्रकार की खेलकूद प्रतियोगिताएं आयोजित की गई, जिसमें विजेताओं और प्रतिभागियों को पुरस्कार व स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया।
इससे पूर्व कार्यक्रम का उद्घाटन दीप प्रज्ज्वलन और सरस्वती वंदना के साथ किया गया। विश्व संवाद केन्द्र के प्रमुख डॉ. दलेल सिंह ठाकुर ने मुख्य अतिथि हरबंस सिंह ब्रसकोन, उपाध्यक्ष यादविन्द्र सिंह चौहान ने मुख्य वक्ता हार्दिक मेहता को हिमाचली परम्परा अनुसार शॉल व टोपी पहनाकर सम्मानित किया।
कार्यक्रम के समापन पर विश्व संवाद केन्द्र शिमला के सचिव मोती लाल ने उपस्थित पत्रकारों और उनके परिवारों सहित मुख्य अतिथि व मुख्य वक्ता का आभार व्यक्त किया। उन्होंने बताया कि विश्व संवाद केन्द्र शिमला ने वर्ष 2018 से होली के उपलक्ष्य पर पत्रकार परिवार मिलन कार्यक्रम शुरू किया। लेकिन कोरोना महामारी के चलते दो वर्ष ये कार्यक्रम नहीं हो सका। स्थिति में सुधार के साथ ही अब इस प्रकार के आयोजन किए जा रहे हैं और भविष्य में भी इसी तरह बडे़ स्तर पर कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा।