October 21, 2021

Himachalreport.com

in search of truth

हम स्वप्न देखे किंतु सोते हुए नहीं

हम स्वप्न देखे किंतु सोते हुए नहीं अपितु वो स्वप्न देखे जो हमें सोने न दे और उन स्वप्नों की पूर्ति के लिए सम्पूर्ण ऊर्जा के साथ आगे बढ़े। लेडी गवर्नर अंघा अर्लेकर ने आज टूटीकंडी बालिका आश्रम में बालिकाओं से भेंट कर उन्हें प्रोत्साहित करते हुए अपने संबोधन में यह प्रेरणा दी।
उन्होंने कहा कि संस्थान की बालिकाओं को जिस क्षेत्र में जाना है उसके लिए लक्ष्य निर्धारित कर कौशल व कुशलता के साथ उसे प्राप्त करने के लिए परिश्रम करें। उन्होंने कहा कि जीवन में आने वाली चुनौतियों का सामना करते हुए हमें कठिनता और प्रलोबन से बचते हुए अपने व्यक्तित्व के विकास और लक्ष्य की प्राप्ति के लिए आगे बढ़ते रहना है ताकि ‘‘हम भारत की नारी है, फूल नहीं चिंगारी है’’ के मूल मंत्र को सार्थक कर सके। उन्होंने कहा कि वो इस संस्थान में आकर अत्यधिक प्रभावित हुई है। उन्होंने संस्थान की छात्राओं द्वारा प्रस्तुत कार्यक्रम की उन्नमुक्त कंठ से प्रशंसा की।
उन्होंने टूटीकंडी बालिका आश्रम के व्यवस्थापकों एवं प्रबंधकों को इस संस्थान के संरक्षण व संवर्धन के लिए जिम्मेदारीपूर्वक सेवाएं प्रदान करने के निर्देश दिए ताकि यहां रहने वाली सभी बालिकाओं के सर्वागींण विकास और उनके संरक्षण को अधिक प्रभावी रूप से किया जा सके।
उन्होंने अपनी मधुर आवाज में बालिकाओं को
चंदन है इस देश की माटी,
तपो भूमि हर ग्राम है,
हर बाला देवी की प्रतिमा बच्चा-बच्चा राम है,
हर शरीर मंदिर सा पावन, हर मानव उपकारी है,
जहां सिंह बन गए खिलौने, गाय जहां मां प्यारी है,
गीत गाकर सुनाया। गीत में राज्य रेडक्राॅस सोसायटी अस्पताल कल्याण शाखा की अध्यक्ष डाॅ. साधना ठाकुर ने उनका साथ दिया।
लेडी गवर्नर ने कहा कि हमें तकनीक का प्रयोग सकारात्मक भाव के लिए करना चाहिए जोकि वर्तमान की बहुत बड़ी मांग है।
उन्होंने बालिकाओं को 100 हाईजीन किट तथा फल भी वितरित किए।
महिला एवं बाल विकास विभाग की निदेशक राखी काहलो ने आभार उद्बोधन में कहा कि आश्रम की बालिकाओं के विकास के लिए विभाग सदैव तत्पर है। इस संबंध में समय-समय पर इन्हें विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से जानकारी व जागरूकता प्रदान की जाती है।
इस अवसर पर संस्थान की बालिकाओं ने स्वागत गीत, लोक नृत्य, एकल गीत व शिशु गृह के नन्हें बच्चों ने अग्रेजी व हिन्दी कविता प्रस्तुत कर सभी की वाहवाही लूटी।
कार्यक्रम में पूर्व सांसद बिमला कश्यम सूद, बाल कल्याण परिषद की महा सचिव पायल वैद्य, पार्षद डाॅ. किमी सूद, आशा शर्मा, सचिव राज्यपाल पीएस राणा, संयुक्त निदेशक सुरेश शर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी वंदना चौहान, सीडीपीओ ममता पाॅल, जिला बाल संरक्षण अधिकारी रमा कंवर, सदस्य रेडक्राॅस सोसायटी सुषमा मिनोचा, रेडक्राॅस सोसायटी, महिला एवं बाल विकास विभाग तथा बाल संरक्षण विभाग के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।
.0.