September 24, 2021

Himachalreport.com

in search of truth

7 सितम्बर तक पूर प्रदेश में मातृ वंदना सप्ताह आयोजित किया जाएगा


महिला एवं बाल विकास विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अंतर्गत 1 से 7 सितम्बर, 2021 तक पूरे प्रदेश में मातृ वंदना सप्ताह मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार से प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुसार इस सप्ताह के दौरान प्रतिदिन विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। इस सन्दर्भ में सभी जिला कार्यक्रम अधिकारियों व बाल विकास परियोजना अधिकारियों को दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं एवं स्तनपान करवाने वाली माताओं को प्रथम बच्चे के जन्म के दौरान 5,000/-रुपये की राशि तीन किश्तों में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा प्रोत्साहन के रूप में प्रदान की जाती है तथा पात्र महिलाएं औसतन 1000 रुपये जननी सुरक्षा योजना के अन्र्तगत स्वास्थ्य विभाग से भी प्राप्त कर सकती हैं।
उन्होंने कहा कि मातृ वन्दना सप्ताह के दौरान पहले दिन आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रमों में राज्य व जिला स्तर पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, पंचायती राज, आयुर्वेद विभाग तथा बैंकों आदि से समन्वय बैठकंे आयोजित की जाएंगी। दूसरे दिन मातृ वंदना योजना के प्रचार-प्रसार व सही कार्यान्वयन के लिए लोगों को जागरूक करने के लिए पंचायतों में योजना से संबंधित पेम्पलेट तथा पोस्टर बांटे जायेंगे।
प्रवक्ता ने बताया कि तीसरे दिन आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा पात्र लाभार्थियों के घर में जाकर आवेदन मांगे जाएंगे। यह अभियान मुख्य रूप से उन क्षेत्रों में चलाया जाएगा, जहां योजना के लाभार्थियों की संख्या अपेक्षाकृत कम है या लाभार्थी योजना के लाभ से अभी तक वंचित हैं। गर्भवती महिलाओं में कोविड-19 टीकाकरण के बारे में जागरूकता लाई जाएगी।
उन्होंने बताया कि चैथे दिन सभी जिला तथा खण्ड स्तर पर हितधारकों के साथ शिविरों एवं बैठकों का आयोजन किया जाएगा, जिनमें लाभार्थियों को योजना के सम्बन्ध में आ रही समस्याओं का निदान किया जाएगा। जबकि पांचवें दिन सुधार कतार में आवेदन पत्रों में कमियों  को दूर करवाने तथा दूसरी एवं तीसरी किश्त में लम्बित आवेदनों को प्राथमिकता के आधार पर पीएमएमवीवाई-सीएएस पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा।
प्रवक्ता ने बताया कि कार्यक्रम के छठें दिन आंगनवाड़ी केन्द्रांे में स्वास्थ्य, पोषाहार व स्वच्छता दिवस मनाया जाएगा व स्वास्थ्य वर्धक व्यंजनों की प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। सातवें दिन जिला स्तर पर समारोह आयोजित प्रधान मंत्री मातृ वन्दना योजना में बेहतर प्रदर्शन करने वाले आंगनवाड़ी केन्द्रों, पर्यवेक्षक वृतों व बाल विकास परियोजनाओं को पुरस्कृत किया जाएगा। उन्होंने कहा कि विभिन्न गतिविधियों को केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा जारी कोविड-19 दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए ही आयोजित किया जायेगा।