September 24, 2021

Himachalreport.com

in search of truth

प्रशिक्षण कोर्स के लिए करें आवेदन

डॉ वाईएस परमार औद्यानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय, नौणी द्वारा कृषक परिवार से संबंध रखने वाले युवाओं को फलों, सब्जियों, फूलों और मशरूम उत्पादन एवं मधुमक्खी पालन में प्रशिक्षण पाने का सुनहरा अवसर दिया है। विश्वविद्यालय ने 2021-22 सत्र के लिए अपने एक वर्ष के औद्यानिकी प्रबंधन प्रशिक्षण कोर्स (स्व-रोजगार) के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं।

इस कार्यक्रम के लिए उम्मीदवार ने कम से कम दसवीं या समकक्ष स्तर की परीक्षा उत्तीर्ण की हो, 17 से 30 वर्ष की आयु और कृषक परिवार से संबंध रखता हो। इच्छुक उम्मीदवार अपना आवेदन पत्र साधारण कागज पर संबंधित स्टेशनों के अधिष्ठाता/ सह निदेशक या कृषि विज्ञान केंद्र प्रभारी के कार्यालय में 4 सितम्बर या उससे पहले तक जमा कर सकते हैं। साक्षात्कार 20 सितम्बर को कॉलेज के अधिष्ठाता/ केंद्र सह निदेशक/ प्रभारी के कार्यालय में प्रातः 10:30 बजे से आयोजित किए जाएंगे। सभी उम्मीदवारों को यह घोषणा पत्र भी देना होगा कि वह इसे एक व्यवसाय के रूप में अपनाएंगे। साक्षात्कार के समय उम्मीदवारों को अपने समस्त प्रमाण पत्र तथा उसकी एक-एक प्रतिलिपि साथ लानी होगी। प्रशिक्षण के दौरान कोई भत्ता देय नहीं होगा।यह प्रशिक्षण पाठ्यक्रम 4 अक्टूबर, 2021 से विश्वविद्यालय के नेरी महाविद्यालय, क्षेत्रीय औदयानिकी अनुसंधान और प्रशिक्षण स्टेशनों और कृषि विज्ञान केन्द्र चंबा में चलाया जाएगा। विश्वविद्यालय के सात स्टेशनों में इस प्रशिक्षण कोर्स की कुल 130 सीटें होगी। जाछ (कांगड़ा), बाजौरा(कुल्लू), शारबो (किन्नौर), मशोबरा (शिमला) में स्थित विश्वविद्यालय के क्षेत्रीय औदयानिकी अनुसंधान और प्रशिक्षण केन्द्रों और औद्यानिकी एवं वानिकी महाविद्यालय, नेरी (हमीरपुर) में इस कार्यक्रम की 20-20 सीटें होगी। सिरमौर के धौलाकुआं में क्षेत्रीय बागवानी अनुसंधान और प्रशिक्षण केंद्र और चंबा के सरु में स्थित कृषि विज्ञान केंद्र में इस प्रशिक्षण कोर्स की 15-15 सीटें होगी।