सात पंचायतों के लगभग 600 लोगों ने अपनी चिकित्सा जांच करवाई

Spread the love

शिमला,
घरद्वार पर जांच व चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवा कर लोगों को स्वास्थ्य लाभ प्रदान करना चिकित्सा शिविरों का मूल ध्येय है, जिसके तहत आज जिला रेडक्राॅस सोसायटी शिमला, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग तथा आर्यवर्त एजुकेशनल वेलफेयर एंड चेरिटेबल सोसायटी के संयुक्त तत्वाधान् में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र गानवी रामपुर में निःशुल्क बहु विशेषज्ञ चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। यह विचार आज उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने शिविर का उद्घाटन करने के उपरांत व्यक्त किए।
उन्होंने बताया कि शिविर का लाभ लेने के लिए दुर्गम क्षेत्र की सात पंचायतों के लगभग 600 लोगों ने अपनी चिकित्सा जांच करवाई।
उन्होंने कहा कि आर्यवर्त सोसायटी द्वारा लगातार समाज सेवा से जुडे़ कार्य किए जा रहे है, जोकि बहुत ही सराहनीय कार्य है।
उन्होंने कहा कि शिविर के दौरान विभिन्न रोगों की जांच के साथ-साथ निःशुल्क दवाईयां भी लोगों को प्रदान की जाएगी। उन्होंने कहा कि आगामी समय में ऐसे शिविरों का निरंतर आयोजन किया जाएगा ताकि लोगों को इसका लाभ मिल सके।
उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक लोग कोरोना जांच करवाए ताकि इसके फैलाव को रोका जा सके और आने वाले समय में जल्द ही कोरोना संक्रमण के प्रकोप से मुक्ति मिल सके।इस अवसर पर उन्होंने क्षेत्र की जनता की समस्याएं भी सुनीं तथा उनके जल्द निवारण के लिए अधिकारियों को निर्देश भी दिए। उन्होंने फांचा क्षेत्र का जल्द दौरा करने की बात भी कही ताकि वहां की समस्याओं का जल्द निवारण हो सके।
आदित्य नेगी ने कोरोना काल में उत्कृष्ट कार्य करने वाले नागरिकों और पंचायत प्रतिनिधियों को सम्मानित भी किया।
शिविर में रामपुर के खनेरी, सराहन, कुमारसैन और सुन्नी से विशेषज्ञ चिकित्सकों ने नेत्र रोग, स्त्री रोग, हड्डी रोग, बाल रोग, कान, नाक व गला रोग तथा अन्य रोगों से संबंधित जांच व निरीक्षण किए गए।