June 15, 2021

Himachalreport.com

in search of truth

सोमवार और वीरवार को ही लगेगें 18 से 44 आयवर्ग को टीके

व्ज़वज

18 से 44 वर्ष के आयु वर्ग के पात्र लाभार्थियों का कोविड टीकाकरण शेड्यूल 15 मई, 2021 से कोविन पोर्टल पर दिखाई देगा। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के मिशन निदेशक डाॅ. निपुण जिंदल ने आज यहां कहा कि बिना किसी अप्वाईटमेंट के किसी भी व्यक्ति या लाभार्थी का टीकाकारण नहीं किया जाएगा। उन्होंने लाभार्थियों से किसी भी असुविधा और भीड़भाड़ से बचने के लिए लाभार्थी से अपने निर्धारित पंजीकरण और अप्वाईंटमेंट कार्यक्रम के अनुसार ही टीकाकरण केेंद्र पर जाने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि 18 से 44 वर्ष के आयु वर्ग और प्राथमिकता समूहों वाले लाभार्थियों के टीकाकरण के दौरान कार्य आपस में प्रभावित न हो इसके दृष्टिगत निर्धारित केंद्रों पर ही संबंधति समूहों का टीकाकरण करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने ने बताया कि उपायुक्तों और पुलिस अधीक्षकों से भी टीकाकरण केेंद्रों पर कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने का आग्रह किया गया है।
उन्होंने कहा कि 18 से 44 आयु वर्ग के लिए टीकाकरण केवल सोमवार व वीरवार को ही किया जाएगा और लाभार्थी का टीकाकरण शेड्यूल हर निर्धारित शेड्यूल से दो दिन पूर्व पोर्टल पर दिखाई देेगा। उन्होंने कहा कि मई माह में इस आयु वर्ग के लिए टीकाकरण कार्यक्रम निर्धारित कर दिया गया है जिसके अन्र्तगत 17, 20, 24, 27 और 31 मई, 2021 को ही इस आयु वर्ग के लाभार्थियों का टीकाकरण किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि राज्य को भारत के सीरम संस्थान पुणे से कोविशील्ड वैक्सीन की 1,07,620 खुराकें प्राप्त हो गई और 18-44 वर्ष के आयु वर्ग के लिए 17 मई 2021 से टीकाकरण अभियान शुरू कर दिया जाएगा। टीकाकरण के लिए इस आयु वर्ग के सभी पात्र व्यक्तियों को स्वयं को कोविन पोर्टल पर पंजीकृत करना होगा और टीकाकरण करवाने के लिए समय का निर्धारण भी पोर्टल पर ही किया जाएगा। आरोग्य सेतु ऐप के माध्यम से भी टीकाकरण केंद्र का पंजीकरण और समय निर्धारण किया जा सकता है।
मिशन निदेशक ने कहा कि बैंक कर्मचारी, कोविड ड्यूटी देने वाले शिक्षक, हिमाचल पथ परिवहन निगम के चालक, परिचालक और अन्य समूह कोविड टीकाकरण के लिए प्राथमिक समूहों में शामिल हैं। उन्होंनेे कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा 12 मई को टीकाकरण कार्यक्रम की समीक्षा की गई थी, जिसमें विभिन्न विभागों के कार्यरत लोगों को कोविड टीकारण के लिए प्राथमिकता वाले समूह में शामिल किया गया है। जिनमें हिमाचल पथ परिवहन के चालक परिचालक, ईंधन पंप संचालक, पीडीएस डिपो धारक, कोविड ड्यूटी देने वाले शिक्षक, बैंक और वित्तीय सेवाएं, कैमिस्ट, लोकमित्र केंद्रों के कर्मचारी, बच्चों की देखभाल करने वाले संस्थानों के कर्मचारी और फार्मा उद्योग के कर्मचारी शामिल है। इन विभागों के संबंधित कर्मचारी स्वयं को अपने विभाग से प्रमाणित करवाकर प्राथमिकता समूह में टीकाकरण का लाभ उठा सकते हैं।